Thought of the day

Sunday, 9 December 2007

धर्म-परिवर्तन का कुण्डली से निरीक्षण

अक्सर ज्योतिषी के लिए ग्रह बोलते हैं और श्रेय ज्योतिषी स्वयं को देता है। कुछ दिन पहले कहीं किसी ने लिखा कि कुण्डली से धर्म-परिवर्तन नहीं बताया जा सकता। मैंने उन्हें केवल इतना कहा कि “बहुत आसानी से बताया जा सकता है”। तो जवाब में तीन कुण्डलियां भेज दी (इमेल द्वारा) बाँचने को – “बताओ इसमें से किसने धर्म-परिवर्तन किया होगा और कब”।


मैंने पहले तो उन्हें समझाया “ज्योतिषी को न तो चुनौती देनी चहिए, न स्वीकार करनी चहिए। यह ज्योतिष के मूल सिद्धांत से बाहर है”। मगर वे स्वयं ज्योतिषी हैं, यह सोचकर उन कुण्डलियों को बाँच कर यह उत्तर भेजा –

Sanjay Gulati Musafir <iivrglobal@gmail.com> wrote:

Case1 21-03-1959 , 04:30am , patna
case2 21-09-1953 , 06:00am , ranchi
case3 04-04-1980 , 09:00am , bokaro

Case3 में धर्म-परिवर्तन की संभावना सबसे प्रबल है! बाकी तुम जानो!

Neither take challenges, nor give challenges!

और जवाब आया –

From: g........ j....... g...........@yahoo.co.in
Date: 29 Nov 2007 00:33
Subject: Re:
To: Sanjay Gulati Musafir
iivrglobal@gmail.com

thank you , मैंने जानकारी के लिए लिखा था । वास्तव में मुझे इसकी जानकारी नहीं है। यदि आपकी बातें सही होती है , तो आपसे कुछ सीखने में हर्ज ही क्या है।

संबंधित लेख –
क्या पूछ सकते हैं आपसे?
ज्योतिष - जागो हे बन्धु
हर ज्योतिषी करता है अलग ही विशलेषण – 2
Related Articles:


No comments:

Post a Comment

Thanks for your comments
Sanjay Gulati Musafir

Copyright: © All rights reserved with Sanjay Gulati Musafir