Thought of the day

Saturday, 1 December 2007

राहु काल

राहु काल में शुरू किए नवीन कार्यों में सामान्यतः अडचन आती है या यथेष्ट फल की हानि होती है। यथासंभव राहुकाल में कोई नया काम न शुरू करें।

सप्ताह के विभिन्न दिनों में राहुकाल इस प्रकार है –


सोमवार सुबह 07:30 से 09:00 तक
मंगलवार दोपहर 3:00 से 04:30 तक
बुधवार मध्यान से दोपहर 01:30 तक
गुरूवार दोपहर 01:30 से 03:00 तक
शुक्रवार सुबह 10:30 से मध्यान तक
शनिवार सुबह 09:00 से 10:30 तक
रविवार सायं 04:30 से 06:00 तक


Read the English version here: Rahu-Kaalam

संबंधित लेख –
मुहूर्त्त – कब और क्यों
Related Articles:


No comments:

Post a Comment

Thanks for your comments
Sanjay Gulati Musafir

Copyright: © All rights reserved with Sanjay Gulati Musafir